acidity permanent solution in hindi, acidity ka permanent ilaj

तुरंत एसिडिटी ठीक करने की दवा, बाबा रामदेव आयुर्वेदिक

acidity permanent solution in hindi, एसिडिटी की दवा, acidity ki dawa

एसिडिटी की दवा बताये क्या है अम्लपित्त Acidity एक ऐसी Common problem है जो ज्यादा तीखे, तले हुए पदार्थ खाने से, ज्यादा मसालों का सेवन करने से, ज्यादा मिर्च खाने से, कम पानी पिने से, बिना समय के भोजन करने से होती है यह सीने में जलन और पेट की जलन की खास वजह होती हैं.

महर्षि चणक कहते हैं – जो स्वस्थ रहना चाहते हैं उनके लिए सबसे पहली शर्त हैं समय से भोजन करे. लेकिन आजकल हम सभी समय से भोजन नहीं करते और स्वाद के चक्कर में ज्यादा खाना खा लेते हैं इन सब के कारण से acidity की problem हो जाती हैं. (एसिडिटी का कारण पतंजलि) पड़ें पूरा acidity permanent solution tip in Hindi.

Acidity के लिए एलोपैथिक में तो कोई दवाई Medicine नहीं होती हैं. और सामान्य एसिडिटी की अंग्रेजी दवाई को जिंदगी भर खाते रहिये थोड़ी देर आराम होगा और फिर अगली बार खाना खाने पर फिर से एसिडिटी की जलन शुरू हो जाएगी. इस तरह की Temporary दवाई जरूर मिलती हैं पर इनके सेवन से ज्यादा लाभ नहीं होता. यह जड़ से ख़त्म नहीं करती.

एसिडिटी की दवा क्या है

Acidity Ki Dawa batao in Hindi

एसिडिटी में यह ध्यान दें और यह उपाय करे

आहार के ऊपर नियंत्रण सबसे पहली शर्त, जो ज्यादा चाय पीते है, ज्यादा कॉफ़ी पीते हैं और शराब, Smoking, तम्बाकू का सेवन करने से बचे. और सभी तरह के दूषित पदार्थ से भी बचे मांसाहारी भोजन करना कम कर दे.

Coca cola Pepsi जैसी तमाम चीजों के सेवन से बचे, इनमे भयंकर acid होता है. जो की आपके शरीर को बहुत जहरीला बना देता हैं. यह एसिड आपके पुरे पाचन तंत्र को तहस-महस कर देता हैं.

और एक उपाय को हमेशा ध्यान में रखिये की जब भी आप कोई चाय पिए, कोल्ड्रिंक पिए कुछ भी खाये तो उसको खाने व पिने से पहले 1 गिलास पानी पिले तो यह उसके असर को कम कर देगा और आपको एसिडिटी की शिकायत नहीं होगी.

तो एसिडिटी के लिए एक तो इन चीजों के सेवन से बचे और बिना मसाले वाली सब्जियां खाये. यानी सात्विक भोजन करे. और दूसरी बात हमेशा खाना चबा-चबा कर खाये. जल्दबाजी में किया गया भोजन पाचन तंत्र पर Overloading डालता हैं. इसलिए चबा-चबा कर भोजन करे.

  • एसिडिटी के लिए असरकारी आयुर्वेदिक घरेलु उपचार होता है “अलोएवेरा” का. आप एसिडिटी का तुरंत जड़ इलाज के लिए खाना खाने से पहले ही 4 चम्मच अलोएवेरा का Juice पिलीजिए.
  • और एसिडिटी से आपको ज्यादा Problem होती हो तो खाना खाने के आधे घंटे बाद भी अलोएवेरा Juice पिलीजिए. अलोएवेरा का Juice पिने से acidity permanently ठीक हो जाती हैं.
  • अलोएवेरा एसिडिटी में दवा का काम करती है, आप पतंजलि स्टोर से अलोएवेरा खरीद सकते है या घर पर ही अलोएवेरा का पौधा लगाए और उसके पत्ते को काटकर उसका रस पीना शुरू करे. इस तरह बिना किसी खर्च के घर पर ही आप इस दवा से एसिडिटी जड़ से ख़त्म कर सकेंगे.

  • पाचन तंत्र की विकृति के कारण अपचन होता है उसी को acidity problem कहते हैं. इसमे शरीर में पित्त बढ़ जाता हैं.

जो भस्त्रिका प्राणायाम और कपालभाति प्राणायाम का निरंतर अभ्यास करते हैं. उनको यह एसिडिटी का रोग कभी नहीं होता  हैं. बस एसिडिटी के रोगी को बहुत तेजी से कपालभाति नहीं करना चाहिए.धीरे धीरे कपालभाति प्राणायाम का अभ्यास करना चाहिए.

  • खाना खाने के बाद सौंफ और मिश्री खाये
  • सौंफ उबालकर पिए
  • खाना खाने के बाद इलाइची मुंह में डालकर चूसे
  • लौंग मुंह में डालकर चूसें
  • ठंडा दूध पिए तुरंत जलन खत्म होगी
  • अगर एसिडिटी लंबे समय तक रहती हैं तो अल्सर और कोलाइटिस की problem हो जाती हैं. उसके लिए बेल का निरंतर सेवन फिर छाछ का प्रयोग, अनार का प्रयोग करे यह बहुत असरकारी होंगे. इसमे भी प्राणायाम धीरे-धीरे ही करे.
  • और औषधि के तौर पर आप 100 ग्राम अविपत्तिकर चूर्ण व 10 ग्राम मुक्त शक्ति भस्म को मिला लें. और एक-एक चम्मच सुबह शाम शहद के साथ नियमित प्रयोग करे. इससे एसिडिटी से हमेशा के लिए छुटकारा हो जाएगा.
  • और यदि आप ऐसे ही सुबह उठकर रोज जो हैं अलोएवेरा का प्रयोग करते हैं तो इससे एसिडिटी से भी छुटकारा मिलता हैं और इससे हड्डियों के रोग भी नहीं होते, सुगर की बीमारी भी नहीं होती हैं. और यह जोड़ों के दर्द के लिए तो बहुत ही फायदेमंद होता हैं.

तो अलोएवेरा का juice एसिडिटी के लिए रामबाण आयुर्वेदिक उपाय हैं. में तो पूरी दुनिया के लोगों से यही कहना चाहूंगा की एसिडिटी के ट्रीटमेंट के लिए अलोएवेरा juice का ही सेवन करें.

Ramdev Baba Medicine For Acidity

  • 1. Divya Avipattikara Churna patanjali
  • 2. Divya Mukta Sukti Bhasm
  • 3. Divya Moti Pisti:

बताये गए एसिडिटी की आयुर्वेदिक दवा, acidity ki dawa batao name इनका सेवन आप भी करे और Facebook और Whatsapp पर अपने दोस्तों के साथ इस SHARE करे. ताकि जो भी बाबा रामदेव के इलाज से एसिडिटी की जलन दूर करना चाहते हो वह इन नुस्खों से अपने उपचार कर सके.

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.

6 Comments

  1. Sarir kajor thora parisaram se hi thakan mahsus hona ling dhhila dhat girna din me tin char letting hona letting ke sath saphe saphed girna ging ka Mulayam par jana jaise samasiya se juj rahe hai dawa elaj bataye

  2. aap aloevera subah khali pet uthne ke baad le or raat ko bhojan karne ke turant baad iske alawa sone se 3 ghante pahle bhojan kare aur ho ske to thoda bahut walking kar liya kare.

  3. Muje pat Hamesha heavy lagta he or mene alovera juice 2 months tak Liya magar job pe traveling ke vajah se cycling n working bandh hone se ek week me Hi pet bhari rahta he send me Patanjali products for relief this problem…

  4. namskar sir muje kafhi lambe smy se chati main jalan hoti hai or mera wait bhi bhi kam ho gya hai

  5. Greetings! Very useful advice within this article! It is the little changes which will make the most important changes. Thanks a lot for sharing!
    health tips.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.