ghutno ka dard, घुटने में दर्द का इलाज, घुटने के दर्द का आयुर्वेदिक इलाज

110% घुटने के दर्द का जड़ से इलाज : 11 उपाय और दवा (आयुर्वेदिक)

घुटनो के दर्द का इलाज और दवा जानिए यह बहुत ही तकलीफ देने वाला दर्द होता है, यह गठिया रोग, ज्यादा उम्र होने से, चोंट आदि के कारण से होता है, यह जोड़ो के दर्द का एक प्रकार है.

यहां हम आपको आयुर्वेदिक उपाय के बारे में बताएंगे, इन के जरिये आप बड़ी आसानी से बिना किसी डॉक्टर की सहायता के ही छुटकारा पा सकते हैं, यह बाबा रामदेव, राजीव दीक्षित जी व अन्य आयुर्वेदिक चिकित्सको द्वारा बताये गए है, आगे निचे पढ़िए इन्ही के बारे में.

इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए जरुरी है की आप रोजाना व्यायाम करे, योग करे व एक सात्विक आहार लें. इस तरह आपको जल्दी से घुटनो में होने वाले इस असहनीय दर्द से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाइएगा आगे पढ़िए.

घुटनो में दर्द का कारण

  • ऑस्टिओआर्थरिटिस, टेन्डोनिटिस, बुरसिटिस, गठिया, डिस्लोकेशन, बोन ट्यूमर्स आदि रोग होने से दर्द उत्पन्न होता है. इसके साथ ही चोंट लगना, एक्सीडेंट भी इसके कारण बनते हैं, चिकनगुन्या में भी यह दर्द होता है. घुटनो की हड्डियों में ग्रीस आदि की मात्रा कम होने से भी दर्द होता है.
  • 21 दिन में धातु का इलाज 9 उपाय : 101% पेशाब में धात गिरना रोके
  • पोस्ट को पुरे ध्यान से, आखिर एन्ड तक पूरा पड़ें.

घुटनो के दर्द का लक्षण

  • घुटनो में जकड़न होना, सूजन होना, छूने पर दर्द होना, दर्द वाली जगह लाल हो जाती है, घुटने को मोड़ने में दिक्क्त आती है.

घुटने में दर्द का इलाज, घुटने के दर्द का आयुर्वेदिक इलाज

घुटनो के दर्द का इलाज

Ghutno Ke Dard ka Upay Bataye

  • सहजन की छाल 10-15 ग्राम लेकर इसे दो ग्लास पानी में अच्छे से उबाले, तब तक उबाले जब तक यह उबलकर एक चौथाई न रह जाए, इसे धीमी आंच में उबाले. अब ठंडा होने के लिए रख दें और फिर इसे छानकर पि जाए. इस घुटने के दर्द की दवा के इस प्रयोग को आपको 10-15 दिनों तक करना है.
  • पारिजात जिसे हरश्रृंगार भी कहते है इस पेड़ के 7 पत्ते तोड़कर चटनी बना ले और करीबन एक गिलास में डालकर धीमी आंच में उबाले जब पानी आधा रह जाए तो गैस बंद कर दें. इसे रोजाना रात को बनाकर रख दे व फिर सुबह खाली पेट इस पानी को पि जाए इसको पिने के 45 मिनट बाद तक कुछ न खाये सिर्फ 3 तीन दिन इसका प्रयोग करे पूर्ण आराम मिल जायेगा.
  • नागरमोथा घास को उखाड़ने पर उसमे निचे गठन निकलती है उसी गांठ को पीसकर आधा चम्मच रोजाना खाने से जल्द ही घुटने व गठिया के अन्य दर्द ख़त्म हो जाते है. यह घास आपको तालाब के किनारे मिल जाएगी, इसको उखाड़ने पर ही इसकी गाँठ दिखेगी. इसका प्रयोग आप सुबह और शाम दोनों समय पर करे तो आपको घुटनो के दर्द में अचूक लाभ होगा.
  • वृद्धावस्था में रोजाना सुबह जल्दी 6 बजे उठकर 5-10 ग्राम मेथी कोरी ही खा जाए, इस उपाय से वृद्धावस्था में घुटनो के दर्द से छुटकारा मिलता है. रात को सोते वक्त एक कटोरी में पानी डालकर मेथी दाने भिगो कर रख दें और सुबह इन दानो को खाले यह भी रामबाण लाभ करता है.

1. घुटने का घिसना और सूजन – अगर आपके घुटने घिसे नहीं है और सिर्फ उनमे खून की कमी है तो यह उपाय आपको 100% लाभ देगा. एक चम्मच हल्दी पाउडर ले, एक चम्मच पीसी शक्कर यानि चीनी लें, चने के बराबर चुना भी ले (चुना किराने की शॉप पर एक रुपये में मिल जाता है) अब इन सभी को एक कटोरी में डाल दें और ऊपर से इतना पानी मिलाये की यह पेस्ट की तरह तैयार हो जाए, अच्छे से मिला ले.

अब इसे रोजाना रात को सोने से पहले अपने घुटने पर लगाए थोड़ी मालिश करे और फिर रुई कॉटन इसके ऊपर बांध दें और किसी पट्टी या डॉक्टर टेप की मदद से इसे वही चिपका दें और रात भर ऐसे ही घुटनो पर लगा रहने दें. यह घुटनो का दर्द को सिर्फ चंद दिनों में दूर कर देता है. यह बहुत ही असरकारी है आप इस ghutno ke dard ka ilaj baba ramdev को जरूर करे.

  • इस पोस्ट को पूरा पढ़ लेने के बाद यह भी जरूर पड़ें

घुटनो के दर्द की दवा

2. राजीव दीक्षित जी – जब भी पानी पिए तो सिप करते हुए पानी पिने की आदत डालें. यह तरीका अगर आप अपनाते है तो मात्रा 7-10 दिन में आप घुटने के दर्द में आश्चर्यजनक लाभ पाएंगे, अलविदा कह देगा. इसलिए कल से सिप करते हुए यानी आराम से घूंट-घूंट करके पानी पिए तो आपको जिंदगी में कभी जोड़ों का दर्द और मोटापा नहीं बढ़ेगा घुटनो से तो राहत मिलेगी ही.

3. कीकर का पेड़ जिसे बाबुल का पेड़ भी कहते है, इस पर जो फल आता है फली के आकर का उसे तोड़कर लाये, (यह पेड़ आपको जंगल या शहर से बाहर आसानी से मिल जायेगा). तो इसकी फली को लाकर धुप में सूखने के लिए छोड़ दें, सूखने पर इसका पाउडर बना लें. अब इस पाउडर को भोजन के बाद 1 चम्मच की मात्रा में रोजाना लगातार लेते रहे तो इससे बहुत लाभ होगा यह घुटने के दर्द का आयुर्वेदिक उपचार  की तरह काम करता हैं.

4. कच्चे करेले को आग में भूनकर मसलकर, भरता बनाकर रुई में लपेट कर अगर घुटने पर बांधते है तो इससे घुटनो में होने वाला दर्द ख़त्म हो जाता हैं. सूजन भी चली जाती है. रोजाना के प्रयोग से यह जड़ से नष्ट हो जाता है. इसके अलावा करेले की सब्जी व करेले के रस का सेवन भी करे.

5. घुटनो के दर्द में रोजाना खाली पेट सुबह के समय अखरोट की गिरी निकालकर खाये, इसे छोटे से घरेलु उपाय से अत्यंत लाभ होता है. हजारों लोगों ने इसमें आजमाया है, बहुत सरल उपाय है आप भी करके देख सकते है.

घुटनो में दर्द का आयुर्वेदिक उपचार

6. 300 ग्राम कायफल के टुकड़े कर लें और एक लीटर सरसो के तेल में अच्छी तरह से पका लें फिर बाद में इसे छान लें और किसी डिब्बी में भर लें. इसके बाद घुटनो पर इस तेल से मालिश करे और फिर एक गर्म सूती कपडे से घुटने की सिंकाई भी करे तो घुटनो के दर्द में लाभ मिलता है. इसके अलावा आप कायफल की छाल को नीबू के रस में घिसकर भी घुटनो पर लगा सकते है इसमें भी सिंकाई की आवश्यकता होती है.

ghutno ke dard ka ilaj, घुटने का दर्द उपाय, घुटने के दर्द का इलाज, ghutno ka dard ka ilaj in hindi,

  • दूध में 8 काली लहसुन की डालकर उबाले और फिर उस दूध का पिए, तो घुटनो के दर्द से छुटकारा मिलता है.
  • जामुन के पेड़ की छाल को अच्छे से तेज उबाल ले और फिर इसे घुटनो पर लगाए.
  • दही में चने बराबर चुना मिलाकर रोजाना खाये, इस छोटे से प्रयोग से अत्यंत लाभ होता है. इसे दो तीन महीने तक रोजाना खाये तो जोड़ो के व घुटनो के समस्त प्रकार के दर्द जड़ से खत्म हो जाएंगे.
  • गोखरू, सोंठ, मेथी और अश्वगंधा इनको अच्छे से बारीक पीस लें व पाउडर जैसा बना लें. इसके बाद रोजाना सुबह व शाम को एक एक चम्मच की मात्रा में खाये. महीने भर तक इसे निरंतर खाते ही रहे तो घुटनो के दर्द की समस्या से छुटकारा मिल जायेगा.
  • कच्चे करेले का रस और महुए की छाल को पीसकर एवं हल्का गर्म कर के मालिश करे तो तत्काल लाभ होता है.
  • कालीमिर्च को तिल के तेल में तब तक तले जब तक कालीमिर्च जल न जाये फिर गैस बंद कर ठंडा होने के लिए छोड़ दें व घुटनो पर आराम आराम से मालिश करते हुए लगाए, दर्द निवारक तेल है, यह घुटनो के दर्द का तैल आराम दिलाने में बहुत उपयोगी है.
  • बथुए के पत्तो का रस सुबह खाली पेट 20-25 की मात्रा में पिए और इसको पिने के बाद आधे एक घंटे तक कुछ भी न खाये पिए तो चंद दिनों में लाभ हो जाता हैं.
  • नीबू काटकर उसे दर्द वाली जगह पर रोजाना मले, ऐसा करे से सूजन और दर्द खत्म होती है.
  • रोजाना संतरे का रस, चुकुन्दर का रस, पालक की सब्जी, मेथी की सब्जी, सहिजन की सब्जी, बेसन की बिना नमक की रोटी खाये.

इनपर जरूर ध्यान दें

  • सुबह-सुबह की धुप में बैठे
  • विटामिस C और D से भरपूर आहार लें
  • सुबह के भोजन के साथ के ग्लास दही ले
  • हर एक घंटे मे 1-2 गिलास पानी पिए
  • नारियल और नारियल की गिरी खाये
  • मेथी का ज्यादा सेवन करे

दोस्तों अगर आप घुटने का दर्द उपाय दवा, ghutno ke dard ka ilaj in Hindi करते है तो आपको शत प्रतिशत लाभ होगा. रोजाना अखरोट, मेथी, पानी पिने का तरीका आदि अवश्य ही करे. अगर आप घुटने में दर्द का उपचार के बारे में और अधिक पढ़ना चाहते है तो यहाँ गठिया व जोड़ो से सम्बंधित जो लेख बताये गए है उन्हें भी पड़ें.

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.