धातु रोग का घरेलू उपचार, धातु रोग का इलाज, धातु रोग की दवा

21 दिन में धातु का इलाज 9 उपाय : 101% पेशाब में धात गिरना रोके

धातु रोग का घरेलू उपचार की दवा और उसे ठीक करने के उपाय पेशाब में धातु गिरना एक सामान्य सी समस्या होती जा रही है, नशीली चीजों का सेवन, शारीरिक कमजोरी और अधिक संभोग, हस्थमैथुन आदि के कारण यह समस्या पैदा होती है इसको जल्द से जल्द ठीक करना बहुत जरुरी होता है.

बताये जा रहे उपायों को करने से दो से तीन सप्ताह के भीतर यानी 21 दिनों के लगभग धातु में आधे से ज्यादा फर्क पड़ जाता है, हां अगर आपको पुरानी से पुरानी धातु गिरने की समस्या है तो इसको थोड़ा और समय लग सकता है बाकी को बहुत जल्दी ये उपाय ठीक कर देते है.

इसे इंग्लिश में spermatorrhoea कहां जाता है. धातु से छुटकारा पाने के लिए हम यहां आपको होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक दवा नुस्खे बता रहे है जिनके जरिये आप 100% पेशाब में धात का इलाज कर सकेंगे. इसके साथ इस रोग में क्या करे आदि सभी के बारे में बताएंगे लेख को पूरा पड़ें dhatu rog treatment in Hindi remedies.

प्रश्न : आखिर धातु रोग क्या है :

  • पेशाब करते समय, लेटरिंग करते समय, लिंग से वीर्य का बहना यानी मल त्याग या कोई भी काम जिसमे हम शारीरिक जोर लगाते है तो लिंग से पतला सा द्रव्य निकलता है जिसे धात की शिकायत कहते है. यह हमारी बिना मर्जी की दिन में कभी भी अपने आप निकलता रहता है. ऐसी व्यक्ति स्वप्नदोष, अति शीघ्र स्खलन, दुबलेपन, कमजोरी आदि से ग्रसित होते है.

धातु रोग का घरेलू उपचार व दवा बताये धातु रोग का घरेलू उपचार, धातु रोग का इलाज, धातु रोग की दवा

Peshab Me Dhat Girna Ka Ilaj in Hindi

धातु रोग के कारण

  • कम उम्र में ज्यादा हस्थमैथुन करना
  • ज्यादा संभोग करना के कारण
  • संभोग के प्रति ज्यादा उत्तेजना होना
  • लिंग की नसों में कमजोरी से भी धातु रोग पैदा होता है
  • पोषकत तत्वों की कमी
  • नंगे चित्र, किताबे, वीडियो आदि देखना

धातु रोग के लक्षण

  • शारीरिक कमजोरी होना
  • सिर, कमर, पैरों में दर्द रहना
  • मन की कमजोरी
  • आलस्य
  • डरपोक स्वाभाव होना
  • पेशाब में जलन
  • पेशाब ज्यादा आना
  • अति शीघ्र स्खलन धात गिरने के लक्षण में आम है
  • छोटे से काम करने पर थकान आना

तो यह रहे धातु रोग यानी की धात गिरने की बीमारी के लक्षण और कारण. वैसे यह रोग ज्यादातर नोजवानो में देखने को मिलता है, तोह ऐसे में धात का ट्रीटमेंट जल्द से जल्द करना जरुरी होता है क्योंकि अभी बहुत जिंदगी बाकी है.

#1

  • धातु दुर्बलता दूर करने के लिए दो गिलास पानी, 50 ग्राम छोटी इलाइची पीसी हुई, तुलसी के 15 पत्ते, 2 चम्मच मिश्री. इन सभी को एक बर्तन में डालकर गैस पर रख कर आधे घंटे तक धीमी आंच में उबाले. जब यह एक कप जितना रह जाये तब गैस बंद कर सकते है.
  • विधि : काढ़ा बन जाने के बाद उसे ठंडा होने दें और उसमे से आधा कप सुबह खाली पेट और आधा कप रात को सोने से पहले लें. यह 1-2 दिन में ही असर दिखा देगा, जब तक पूरी तरह से धातु गिरना बंद न हो तब तक इस धातु के प्रभावी हर्बल उपचार को करते रहे.

#2

  1. आयुर्वेदिक दुकान से भिंडी का पाउडर ले आये, और रोजाना रात को सोने से पहले 2 चम्मच गुनगुने दूध के साथ इसे लें. पहले दिन से ही आपको आराम होना शुरू हो जायेगा. लगातार 1-2 महीने तक लेते रहने से हमेशा के लिए छुटकारा मिलता है पेशाब में धात गिरना बंद करने के उपचार में यह बेहद आसान और सरल घरेलु उपाय है.
  2. भिंडी पाउडर न मिले तो, 100 ग्राम अदरक को आधा लीटर दूध या 2 गिलास में मिलाकर अच्छे से धीमे आंच में उबाल ले, फिर दूध के ठंडा होने पर इसमें 2-3 चम्मच शहद मिलाकर पि जाए. यह भी अच्छे से धातु की समस्या का घरेलु इलाज करता है.

#3

बाबा रामदेव पेशाब में धातु रोग की अंग्रेजी दवा लेने से बचे और यह आयुर्वेदिक दवा बनाकर ले श्वगन्धा, शतावर, सफ़ेद मूली और कोंच के बीज इन सभी को 100-100 की मात्रा में ले और पाउडर कर लें (बारीक पीस ले). इसके बाद रोजाना सुबह शाम 1-1 चम्मच गुनगुने दूध के साथ लें. यह धातु पौष्टिक चूर्ण की तरह है यह धात गिरना बंद कर देती है.

धातु गिरने का इलाज

देसी इलाज में आप रोजाना 5 खजूर दूध के साथ ले, और थोड़ा गुड़ (jaggery) भी रोजाना खाये. यह छोटा सा उपाय धातु रोग को जड़ से नष्ट करने में बहुत मदद करता है.

#4

  • धातु रोग की दवा
  • चंद्रप्रभावटी : 1-1 गोली
  • योनामृत : 2-2 गोली
  • शिलाजीत रसायन : 1-2 गोली

Dhat problem medicine: यह तीनो धातु रोग में पतंजलि की दवा है व आप इनका सुबह शाम दूध के साथ बताई गई मात्रा में सेवन करे. यह स्वयं बाबा रामदेव द्वारा बताए गए उपाय है.

इसके अलावा धातु रोग में इनका सेवन भी किया जाता है कामदेव का चूर्ण, अश्वगंधा की टेबलेट और चूर्ण, अश्वगंधा का पाक, धातुपौष्टिक चूर्ण, वसंत कुसमाकर रस. निवेदन अंग्रेजी दवाई लेने से बचे.

#5

  • 1 चुटकी चन्दर का पाउडर और 2 चुटकी अर्जुन छाल का पाउडर लें, दोनों को 100 ग्राम पानी में अच्छे से मिलाकर 16 दिन तक पिए. इससे लिंग की नसों की कमजोरी दूर होगी, लिंग की जलन शांत होगी व पेशाब में धात गिरना बंद हो जाती है.

#6

  • धात का इलाज करने के लिए रोजाना रात को सोने से पहले शतावरी की जड़ का पाउडर 21 ग्राम की मात्रा में लेकर 200 ग्राम गिलास दूध में मिला कर अच्छे से उबाल लें और गुनगुना होने पर इसे पिलीजिए.

धात गिरने के उपाय

#7

पेशाब में धात रोकने के लिए उपचार में रोजाना सुबह खुली हवा में 15 से 30 मिनट तक कपालभाति प्राणायाम करे तो इससे सभी तरह के योन रोगों का जड़ से इलाज होगा, सभी तरह की शारीरिक समस्या दूर होगी, योन शक्ति बढ़ेगी. अगर आप कोई दवा न ले और रोजाना कपालभाति आधे घंटे तक करेंगे तो भी पूरा लाभ मिल जायेगा.

लिंग की नसों में कमजोरी से धातु रोग पैदा होता है, इसके लिए आप रोजाना मूलबंध और अश्विनी मुद्रा करे.

#8 : Exercise 1

  • धातु रोग का घरेलू उपचार सिद्धासन या पद्मासना में बैठ जाए और अपने लिंग की नसों को कस ले, ऊपर की तरह खींचे, अपनी क्षमता अनुसार ऊपर खिंच कर रखे और फिर छोड़ दें ऐसा रोजाना सुबह करे. और बाकी आप दिन में भी इसे बार-बार करते रहे. आप कुर्सी, पालन, बाइक आदि कहीं पर भी बैठे हो इसे कर सकते हो. यह धात आना बंद कर देगी और योन शक्ति बढ़ाएगी.

#9 : एक्सरसाइज 2 मूलबन्ध

  • रोजाना सुबह सिद्धासन या पद्मासना में बैठकर अपने लिंग की नसों और मल द्वार की नसों यानी लिंग के पास के सभी नसों को सिकोड़ लें ठीक अश्विनी मुद्रा की तरह और फिर पेट पर जोर देकर अपनी सारी सांस को बाहर निकाल दें और पेट को अंदर की और चिपका ले अपनी शमता अनुसार इस इस्थिति में रहे रोजाना सुबह 5-10 मिनट यह करे.
  • अगर आप कपालभाति और यह 2 एक्सरसाइज करते है तो आपको धातु रोग में रामबाण लाभ होगा, इसके साथ ही बताए गए नुस्खे भी करते रहे तो पेशाब से धात गिरना ठीक हो जाएगी.

धातु रोग में अन्य उपाय :

  • 2-3 केले दूध के साथ ले
  • दिन में दही का सेवन करे
  • रोजाना लहसुन, प्याज, गाजर, सौंफ का ज्यादा से ज्यादा सेवन करे

उम्मीद करते है आपको पेशाब में धातु रोग गिरना का इलाज, Dhat ka ilaj batao in Hindi के बारे में जानकर अच्छा लगा होगा. अब आप रोजाना इनका सेवन करे और बाबा रामदेव पतंजलि की दवा भी लेवे. की इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा SHARE करे. पेशाब से धातु गिरना शरीर में को बढ़ने नहीं देता है शरीर को कमजोर कर देता है इसलिए इसका उपचार सबसे पहले करवाना चाहिए. आप इन बताये गए नुस्खों का प्रयोग जरूर करे और फिर हमे बताये.

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.

17 Comments

  1. Sir mere ling me safed safed dhatu chipka rhta h m jab saf or deta hu fir do teen ghante m waisa hi ho jata h
    Iske karan ling ke upar ki chamdi chipki rhti h aur kholne par dard krne lagti h ye 1 hafte se ho rha h

  2. Sir,aap ka pach number wala nuska mere liye thik hai chandan ka paudar aur arjun ka paudar din me kitani bar istemal karana hai aur khali pet ya khana khake pryog karana hai

  3. Sir,aap ka pach number wala nuska mere liye thik hai chandan ka paudar aur arjun ka paudar din me kitani bar istemal karana hai aur khali pet ya khana khake pryog karana hai
    Thanks

  4. बालो के झड्ने कि सम्स्या से आप भि परेसान है तो इस लेख को पडे आपको जलदि हि छुतकारा मिल जायेगा

  5. Dekhiye, har ek nuskha sahi hai. Lekin kisko kya rog hai or kitna hai uski density kitni hai us mutabik agar nuskhe ka upayog na kiya jaaye to wah asar nahi kar paata. Baat ko samjhe.

  6. Bhout se aise madar chod ji jo blojer par 100% garentee de ke bolta hi kaam karega lekin kuch nhi hota hi to plese aap vi kahi aisa to nhi kar rahe ho aapka 1 n. Wala sahi lagta hi but wo kaam karta hi ya nhi jad se khatm karne ke liye mughe btao bro

  7. Bhai aapka solution 1 number bala hi easy hi kya kaam karega aapne kisi se try karwaye ho thanks

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.