टॉन्सिल का इलाज, tonsil ka gharelu ilaj, tonsil ke upay, tonsil ki dawa,

बिना ऑपरेशन के सिर्फ 2 दिन में टॉन्सिल का इलाज : उपाय और दवा

गले में टॉन्सिल का इलाज और उपाय में जानिए ऐसे नुस्खों के बारे में जिनसे आप घर बैठे ही टॉन्सिल को ख़त्म कर सकते है। आगे आप पढ़िए पूरी जानकारी।

टॉन्सिल के लक्षण

  • गले के निचले हिस्से में दर्द
  • गले में खराश और सूजन
  • बुखार आना
  • शारीरिक कमजोरी
  • कंठ में दर्द
  • बोलते समय तकलीफ
  • भोजन ठीक से नहीं कर पाना
  • यह गले में टॉन्सिल के लक्षण होते है.

tonsil kya hai, tonsil kaisa hota hai, tonsil in hindi

टॉन्सिल के कारण

  • आयोडीन की कमी होने से
  • सर्दी जुकाम
  • तेज मसालेदार भोजन
  • कमजोर पाचन तंत्र
  • गर्म ठंडा खाना
  • ज्यादा ठंडा खाना
  • ज्यादा तेलीय चीजों का सेवन
  • वायरस बैक्टीरिया के संक्रमण से
  • गैस अथवा कब्ज रोग
  • बहुत असरकारी नुस्खे बताये है, पोस्ट को निचे आखिर एन्ड तक जरूर पड़ें.

tonsil treatment in hindi

गले में टॉन्सिल का इलाज बताये

Gale Me Tonsil ka ilaj bataye

  • एक चम्मच शुद्ध हल्दी सीधे मुंह में जहाँ पर टॉन्सिल है वहां पर डाल लें और मुंह बंद करके बैठ जाए. हल्दी मुंह की लार से गीली होकर निचे की ओर जाने लगेगी उसे जाने दें आप मुंह बंद करके बैठे रहे. इसे सुबह शाम दोनों समय करना है इस दवा से बिना कोई ऑपरेशन कराये ही छुटकारा मिल जाता है.
  • बाबा रामदेवगले में गांठ और टॉन्सिल से हमेशा के लिए छुटकारा पाने के लिए कपालभाति प्राणायाम और उज्जायी प्राणायाम रोजाना करे. इनके प्रयोग से टॉन्सिल का जड़ से उपचार होता है, फिर कभी यह रोग नहीं होता.
  • 50 ग्राम त्रिकटु चूर्ण व 5-5 ग्राम प्रवाल पिस्टी और अभ्रक भस्म को मिलाकर लें, इस गले में टॉन्सिल के घरेलु उपाय से बहुत लाभ होता है. और अगर क्रोनिक टॉन्सिल हो तो इसमें उपाय में 1 ग्राम स्वर्ण वसन्तमालती बच्चों को चने के बराबर शहद से चटाये. यह गले की गांठ, दर्द सूजन टॉन्सिल में अत्यंत लाभ देता है.
  • जिन बच्चों को बहुत ज्यादा टॉन्सिल रहता है, उनको बबुल पेड़ की छाल को उबालकर उसके पानी से कुल्ला करवाए इससे गांठ और गले का टॉन्सिल से छुटकारा मिलता है.
  • हल्दी को कूटपीसकर सरसो के तेल में भूनकर पेस्ट बनाये. इस पेस्ट को रुई पर रखकर गले पर टॉन्सिलों के समीप बांध दें. दो तीन दिन रुई के टुकड़े के साथ हल्दी बांधने से टॉन्सिल नष्ट हो जाते है.
  • हल्दी को सेंककर एक चम्मच बड़ो को और आध चम्मच बच्चों को सुखी या दूध, गरम पानी आदि से दें. यह भी गले के टॉन्सिल से जल्दी छुटकारा दिलाता है.
  • छुईमुई का पौधा भी आयुर्वेदिक इलाज करता है, इसके लिए छुईमुई पौधे की पत्तियों को पीसकर गले में जहां टॉन्सिल हो वहां पर उसका लैप करे. इसके इस छोटे से उपाय से बहुत लाभ मिलता है.
  • टांसिलाइटिस व वायरस, बैक्टीरिया के कारण गले का टॉन्सिल हुआ है तो आप एक प्याज को पीसकर उसका रस निकाल लें और आधा कप गरम पानी में मिलाकर दिन में तीन से चार बार तक इस पानी से कुल्ला करे.
  • आसान सा टॉन्सिल का उपचार करने के लिए लहसुन के छोटे-छोटे टुकड़े कर ले या बारीक़ पीस दे और इसे पानी में डालकर खूब उबाले फिर पानी ठंडा होने पर दिन में तीन बार गरारे करे. इसके अलावा देसी घी की टॉन्सिल पर मालिश करे (gale me tonsil).
  • टॉन्सिल की सूजन को कम करने के लिए एक गिलास गर्म पानी में आधा चम्मच नमक मिलाकर दिन में तीन बार गरारे करे.
  • टॉन्सिल आयोडीन की कमी से होता है इसलिए वह सब खाये जिसे आयोडीन ज्यादा मात्रा में मिलता हो जैसे की सिंघाड़े, इनमे बहुत ज्यादा मात्रा में आयोडीन होता है इसलिए इसका ज्यादा से ज्यादा सेवन करे.
  • टॉन्सिल में दालचीनी लें और इसे बारीक़ पीस ले फिर 10-15 ग्राम यह पीसी हुई दालचीनी ले और इसे एक या आधी चम्मच शहद में मिलाकर दिन में तीन चार बार चाटें, इसे टॉन्सिल में गले में दर्द और सूजन में भी आराम मिलता है. किसी भी गले में टॉन्सिल की दवाई से कम नहीं है यह घरेलु इलाज.
  • टॉन्सिल के पहले प्रकार में वह बढाकर एक सुपारी की साइज जितना हो सकता है, ऐसी अवस्था में भोजा करने में बोलने में दर्द होता है, कान में दर्द व बुखार भी आ जाती है. दूसरे प्रकार में गले के टॉन्सिल का आकर और भी बढ़ जाता है व स्वांस लेने में भी तकलीफ होने लगती है इसे chronic tonsil कहा जाता है.

टॉन्सिल में क्या करे

गन्ने का रस पिए, सिंघाड़े खाये, गाजर कर रस पिए, देसी घी से गले में मालिश करे, दही खाये, दूध में हल्दी डालकर पिए, नमक के पानी से गरारे करे. तेलीय भोजन बंद कर दें, मसालेदार भोजन बंद कर दें, ठंडा पानी न पिए, हर चिक हलकी गरम करके खाये, पानी भी गुनगुना करके पिए इस तरह आप इन घरेलु इलाज पर ध्यान देंगे तो बहुत जल्दी इससे राहत मिलेगी.

इस तरह आप बताये गए घरेलु नुस्खों का प्रयोग कर बिना ऑपरेशन के ही इस रोग से मुक्ति प् सकते है. जरूरत है तो बस सही तरीके और रोजाना इन उपायों का इस्तेमाल करने की. साथ ही दोस्तों यहाँ जो अन्य पोस्ट दिए है उनको भी आप जरूर पड़ें और इस पोस्ट को खूब शेयर करे.

अगर आप बताये गए इन गले में टॉन्सिल की दवा और उपाय tonsil ka ilaj bataye in Hindi को कर आप बिना किसी ऑपरेशन के घर पर ही इससे छुटकारा पा सकते हैं. इसमें हमने आपको ऐसे नुस्खे भी बताये है जो सिर्फ 1-2 दिन में ही टॉन्सिल ख़त्म कर देते हैं. इस लेख को आप हर जगह SHARE करे ताकि यह सभी लोगों तक पहुँच जाए व किसी को ऑपरेशन की नौबत न आये.

tonsil ka ilaj, gale me tonsil ka ilaj, gale me tonsil ka ilaj in hindi

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Please Don\'t Try To Copy & Paste. Just Click On Share Buttons To Share This.