पीठ दर्द का जड़ से इलाज करने के उपाय और दवा

kamar dard ke gharelu nuskhe in hindi, kamar dard ke gharelu nuskhe

पीठ दर्द का इलाज बताएं क्या है और इसको ख़त्म करने के उपाय भी समझाए ? पढ़िए सबसे ज्यादा असरकारी व फायदेमंद देसी आयुर्वेदिक घरेलु नुस्खे फॉर कमर दर्द. यह एक ऐसा रोग है जो मौत से पहले ही इंसान को झुका देता हैं. बदलती दुनिया में हर साल नये-नये रोग उभरते आ रहे हैं, इनमे से एक कमर में दर्द / पीठ दर्द को भी कहा जा सकता हैं.

वैसे तो यह काफी पुराना रोग हैं, लेकिन यहां पर हम इसे नया इसलिए कह रहे हैं क्योंकि अब back pain कम उम्र के लोगों को भी होने लगा हैं. इसमें ज्यादातर पीठ के निचे दर्द यानी पीठ के निचले हिस्से में दर्द देखा जाता है, ज्यादातर रोगियों को निचे की तरह ही पीठ में दर्द होता है.

back pain gharelu nuskhe in hindi

कमर को हिंदी भाषा में ही “पीठ” भी कहते है, पीठ यानी कमर रीढ़ की हड्डी.

  • जैसा की हमने पहले लिखे लेखों में भी कमर दर्द के बारे बताया हैं वही बात यहां पर लागु होती हैं. वैसे तो ज्यादातर व्यक्ति सर्जरी करवा लेते हैं, लेकिन इस बात से ढेरों व्यक्ति अनजान हैं की पीठ दर्द को आयुर्वेदा के सहारे भी खत्म किया जा सकता हैं.

बहुत से लोगों को इन नुस्खों से आराम नहीं मिलता तो इसका मतलब यह नहीं हुआ की आयुर्वेदिक नुस्खे असरदार नहीं होते, बल्कि इसके पीछे बहुत से कारण होते हैं जैसे की नुस्खे को सही विधि से नहीं बना पाना, उसका रोजाना नियमित उपयोग न करना यह दो बाते सबसे खास होती हैं, अगर आप इन दो बातों का ध्यान रखते हैं तो आपका रोग बिलकुल दूर हो जायेगा. और अगर कुछ दिनों तक नुस्खे का उपयोग करने पर भी आपको आराम न मिले तो आप दूसरे नुस्खों का उपयोग भी कर सकते हैं.

kamar dard ke gharelu nuskhe, gharelu nuskhe for back pain in hindi, gharelu nuskhe for back pain

पीठ दर्द का इलाज बताएं

Peeth dard ka ilaj Bataye in Hindi

तिल का तेल और गेहूं की रोटी

  • बैक पैन के लिए यह नुस्खा भी बहुत फायदा करता हैं. गेहूं के आटे की रोटी को तवे पर एक ओर से सेंके और एक ओर से ऐसे ही कच्ची रहने दें. इसके बाद कच्चे भाग पर तिल का तेल लगाए. तिल के तेल को अच्छे से लगाकर अपनी कमर पर जहां दर्द हो रहा हों वहां पर इस रोटी को रख लें. जल्द ही आपको आराम की अनुभूति हो जायेगी.

जायफल और तिल का तेल

  • जायफल बैक पैन के साथ-साथ कई रोगों के लिए बहुत असरकारी होता हैं, कमर दर्द में इस आयुर्वेदिक नुस्खे का उपयोग भी कर सकते हैं. एक जायफल लें और इसे पानी में अच्छे से घिस लें, अब इन्हें तिल के तेल में मिलाकर गर्म करे. फिर जब यह ठन्डे हो जाए तो जहां पर दर्द हो रहा हो वहां इससे मालिश करे. यह पीठ के निचले हिस्से के दर्द का इलाज में भी बहुत मदद करेगा आसानी से उपलब्ध किया जा सकता हैं.

कई लोग पीठ दर्द की दवा का उपयोग करते है, मेडिसिन टेबलेट कहते है लेकिन वह नुकसान ज्यादा करती है और दर्द से छुटकारा भी कुछ समय के लिए ही दिला पाती है इसीलिए आप इन उपाय जो की एक तरह से आयुर्वेदिक दवा है. इनका उपयोग करके आप दर्द से निजात पा सकते है.

घी और अदरक के नुस्खे

  1. 1 चम्मच अदरक का रस
  2. 1 चम्मच घी

  • इन दोनों को आपस में मिलाकर पिने से बैक पैन में बहुत आराम मिलता हैं. घी हड्डी में हो रहे तनाव को शांत करता हैं और अदरक दर्द निवारक के रूप में काम करता हैं. इन आसान नुस्खे को कमर दर्द के लिए एक बार जरूर अपनाकर देखें.

सहजन आयुर्वेदिक फल

Sahajan Fruit
  • सहजन भी आयुर्वेदा की दुनिया में बहुत ही मशहूर हैं, यह कई तरह के रोगों में रामबाण माना जाता हैं. आयुर्वेदा में इसका कमर दर्द के लिए भी उपयोग किया जाता हैं. ऐसा माना जाता हैं की सहजन की सब्जी खाने मात्र से बैक पैन में आराम मिलता हैं. इसमें आप सहजन की फली ओर पत्तियों की सब्जी बना सकते हैं और आम सब्जी की जगह इसका सेवन कर सकते हैं.

बादाम आयुर्वेदिक नुस्खे

  • कई सालों से उपयोग किया जा रहा बादाम मानव स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं. यह पीठ दर्द के आयुर्वेदिक इलाज में से एक हैं. रोजाना नियमित रूप से कमर के निचले हिस्से में हो रहे दर्द या कंधो के नजदीक हो रहे दर्द में बादाम के तेल से मालिश करने से बहुत लाभ मिलता हैं. इसका उपयोग आज भी हमारी दादी व नानी करती हैं. आप कही भी, किसी भी ज्यादा उम्र के व्यक्ति से इस सम्बन्ध में पूछ सकते हैं.

लौंग का तेल फॉर कमर दर्द

  • हड्डी से जुड़े सभी रोगों में लोंग के तेल से बहुत आराम मिलता हैं. क्योंकि लोंग में भी ऐसे गुण होते हैं जो की एक natural pain killer में पाए जाते हैं. यह देसी उपचार आपको बहुत फायदा देगा. और करना भी कुछ नहीं हैं सिर्फ नियमित रूप से रोजाना लोंग के तेल से दर्द वाली जगह पर मालिश करे, जल्द ही आपको सकारात्मक असर दिखने लगेगा.

अरंडी का तेल का उपयोग करे

  • अरंडी का तेल : यह तेल बैक पैन के लिए वैसे ही बहुत मशहूर हैं. इस दर्द से परेशान सभी लोग अरंडी के तेल के बारे में बहुत अच्छे से जानते हैं. इसी तेल से बना यह काढ़ा आपको दर्द में बहुत राहत देगा, रोजाना इससे दर्द वाली जगह पर मालिश करे.

सोंठ का काढ़ा पीठ दर्द के की दवा है

  • थोड़ी सोंठ लें करीबन 200 ग्राम, अब इसे बारीक पीसले, हल्का बारीक ज्यादा बारीक़ भी न करे. इसके बाद दौ कप पानी लें, सोंठ को इस पानी में डालकर उबाले. जब तक आधा पानी न रह जाए तब तक उबालते रहे. इसे सोंठ का काढ़ा कहा जाता हैं.

  • जब यह उबलकर कर आधा रह जाए तो निचे उतार ले व ठंडा होने का इंतजार करे. इसके बाद इसमें रोजाना सोने से पहले दौ चम्मच अरंडी का तेल मिलाये व फिर कमर पर इस तेल से मालिश करे. इससे कमर दर्द दूर जरूर होगा.

राइ और तिल का तेल

  • राई का तेल
  • तिल का तेल
राइ और तिल
  • दोनों को बराबर मात्रा में लें, अब इसे कांच के बर्तन में डालदे. फिर इसे अच्छे से हिलाये, ताकि यह दोनों आपस में मिल जाए. इसके बाद इसका रोजाना दर्द वाली जगह पर मालिश करने के लिए उपयोग में लाये. राइ और तिल के तेल का यह नुस्खे दर्द के साथ-साथ शरीर में हो रही कैसी भी खुजली को मिटाने में मदद करता हैं. कमर के अलावा इस तेल से शरीर पर कहीं भी मालिश की जा सकती हैं. यह मालिश आपको पीठ दर्द में दवा की तरह काम करेगी.

अदरक सोंठ नारियल

  • अदरक का रस या फिर सोंठ का चूर्ण दोनों में से जो आपके पास हो उसका उपयोग किया जा सकता हैं. अब इनमे नारियल का तेल मिलाकर गर्म करे. फिर ठंडा होने पर इस तेल को कमर पर लगाए, जल्द ही फर्क मालूम हो जाएगा. सबसे सस्ते घरेलु उपाय हैं.

जायफल का उपयोग करे

  • जायफल का लैप शरीर के हर एक अंग के लिए रामबाण होता हैं. इसका उपयोग बहुत समय से किया जाता आ रहा हैं. यह नुस्खा आज भी पीठ दर्द दूर करने के लिए बहुत असरकारी हैं. जायफल का लेप बनाये और इससे शरीर पर मालिश करे. यह आयुर्वेदिक दवा के जैसे काम करेगा.

अलोएवेरा के लड्डू 

  • अलोएवेरा की एक पत्ती को तोड़कर उसमे से गुदा निकाल लें और गेहूं के आटे में मिला लें. अब इस आटे की बाटी बनाये व गोबर के कंडो पर रख कर सेंकें. अच्छी तरह से सिक जाने पर इसमें शुद्ध घी मिलाये और एक-एक बाटी रोजाना खाये.

  • आटा, अलोएवेरा का गुदा दोनों इतनी मात्रा में ले की इनकी आठ छोटी-छोटी बाटियां बन जाए. फिर इसे रोजाना खली पेट खाये. यह पीठ दर्द का सबसे असरकारी देसी घरेलु नुस्खे में से एक हैं बैक पैन में इसका उपयोग जरूर करें. अलोएवेरा मानव के लिए एक वरदान सामान हैं, इसमें ढेरों गुण होते हैं. यह हर एक रोग की दवा हैं.

मिश्री और खसखस 

  • खसखस और मिश्री दोनों को बराबर मात्रा में लेकर मिलाये, अब इसे अच्छे से बारीक कूट लें. फिर रोजाना पांच ग्राम सुबह व रात को सोने से पहले शुद्ध दूध में मिलाकर सेवन करे. यह नुस्खा कमर दर्द को धीरे-धीरे ख़त्म कर देगा. 2-3 दिनों तक इस नुस्खे के उपयोग से अगर आपको बैक पैन/ पीठ दर्द  में जरा भी आराम न नजर आये तो दूसरे नुस्खे का उपयोग करे.

  • कालीमिर्च और खसखस दोनों को बराबर मात्रा में लेकर मिला लें. इन्हें अच्छे से कुटले फिर एक सूती कपडे से इसे छान लें. सिर्फ पांच ग्राम की मात्रा में इसे सुबह शाम दूध के साथ खाये, इसके मिश्रण की फांकी लें और फिर दूध पिए. दूध हमेशा हल्का गरम ही रखे,

लहसुन और सरसों कमर में दर्द के नुस्खे

  • 250-300 ग्राम लहसुन लें
  • 1kg सरसों का तेल लें

सरसों के तेल में लहसुन को तले, इसको तब तक तले जब तक की जल न जाए (लहसुन को तलकर काली होने दें). इसके बाद इस तेल में से सभी लहसुन को अलग निकाल दें, और तेल को किसी भी कपडे से छानकर कांच की शीशी में भर ले. अब दिन में दो बार इस तेल से कमर पर मालिश करे. लहसुन पीठ दर्द का इलाज में बहुत ही असरकारी होता है.

नमक का गर्म पानी

Salt water
  • थोड़ा पानी आग पर उबाल लें, अब इसमें थोड़ा नमक मिलाये. दोनों को आपस में अच्छे से मिला लें. अब जिसे कमर में दर्द हो रहा हो उसे उल्टा लेट जाने को कहे, अब एक बड़ा रुमाल (तौलिया) लें, इसे गर्म पानी में निचोड़ कर रोगी की कमर पर रखे. इस रुमाल (तौलिया) से रोगी की कमर पर भांप देना हैं. ऐसा 15-20 minutes तक करे.

नमक का नुस्खा

  • यह भी आसान घरेलु नुस्खे में से एक हैं. 3 चम्मच नमक लें, इसे सब्जी बनाने की कढ़ाई में डाल दें. कम आंच में इस अच्छे से सेंक लें. अब एक सूती कपडा लें, और इस सिंके हुए नमक को कपडे में बांध लें. अब इस सूती कपडे को कमर पर जहां दर्द हो रहा हो वहां पर रख कर सेंक करे. ऐसा करने से बैक पैन में बहुत आराम मिलता हैं. एक बार आजमा कर जरूर देखें.

चुना (पान में लगाने वाला)

  • चुना भी हड्डियों से सम्बंधित सभी रोगों में बहुत लाभ देता हैं, इसमें कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता हैं जो की हड्डियों को मजबूत बनाता हैं. (पथरी के रोगी इसका इस्तेमाल न करे) बिलकुल थोड़ा सा चुना लें, एक दाने बराबर चुना लें और इसे पानी या दही (curd) में मिलाकर रोजाना पिए.

हल्दी आवला मेथीदाना

  • 100 ग्राम हल्दी
  • 200 ग्राम आवला
  • 100 ग्राम मेथीदाना

इन तीनो का मिश्रण बैक पैन जैसी समस्याओं के लिए बहुत असरकारी होता हैं. हल्दी, आवला और मेथीदाना तीनो को आपस में मिलाकर पीस लें. इसके बाद इन्हें एक कांच के डिब्बे में डालकर रख दें.

अब रोजाना 5 ग्राम शाम को और सुबह को गुन-गुने पानी के साथ लें. यह साधारण सा दिखने वाला मिश्रण (घरेलु नुस्खे) सभी तरह के हड्डियों में होने वाले दर्द को ख़त्म करने में बहुत मदद करता हैं.

देसी घी और अदरक

  • पीठ दर्द का इलाज में यह आसान व असरकारी घरेलु नुस्खे में से एक हैं फॉर बैक पैन. देसी घी और अदरक का लें, अब इस घी में थोड़ा सा अदरक का रस मिलाये और पि जाए. यह कमर दर्द दूर करने में थोड़ा समय लेता हैं अगर इस बिच आपको इससे लाभ न मिलता दिखाई दे तो दूसरे नुस्खे को आजमा सकते हैं.

अलसी के बीज खाये

अलसी के बीजों को खाने से सेहत पर अनेकों लाभ होते हैं. इसका रोजाना सेवन किया जाए तो कमर दर्द जड़ से ख़त्म हो जाता हैं. गर्मी के मौसम में 5 ग्राम इसके बीजों का सेवन करे व सर्दी के मौसम में 15 ग्राम बीजों का सेवन करे.

यह मेथी का पीठ दर्द के घरेलु नुस्खे में सबसे सस्ता व आसान है. इसका उपयोग आप किसी भी तरह से कर सकते हैं, मेथी की सब्जी का सेवन कर सकते हैं, मेथी के लड्डू का सेवन कर सकते हैं आदि मेथी का किसी भी रूप से सेवन करने पर दर्द दूर होता हैं.

बाबा रामदेव योग की मदद लें

  • हड्डियों व शरीर में खिंचाव से भरे रोगों के लिए योग से बढ़कर और कोई उपचार नहीं हो सकता. अगर समय पर आप नियमित रूप से योग करते हैं तो धीरे-धीरे सभी तरह के रोग गायब होने लगते हैं. यह एक मात्रा ऐसी रामबाण औषधि हैं जिसके सहारे प्राचीन समय के व्यक्तियों ने सभी तरह के रोगों से छुटकारा पाया था. पीठ के निचले हिस्से में दर्द को दूर करने में योग भी बहुत लाभ देते है.
  • हमने इस विषय में बाबा रामदेव के नुस्खे यानी पीठ दर्द के योगासन के बारे में बताया हैं. हमने बाबा रामदेव के योग और advance yoga posture इन दो भागो में कमर के दर्द के लिए सबसे ज्यादा असरकारी योग के बारे में बताया हैं. आप इन्हें जरूर पड़ें और रोजाना सुबह के समय नियमित रूप से करे.

Indian Back Pain Home Remedies

  • अजवाइन को सेंक कर खाने से बैक पैन में बहुत फायदा होता हैं. इसे धीरे-धीरे चबाकर निगले.
  • रोजाना तिल के तेल को हल्का गरम करके, सुबह व शाम को दर्द करने वाली जगह पर मालिश करे. यह सभी तरह के कमर दर्द में फायदेमंद होता हैं.
  • ठीक इसी तरह मेथी के तेल से मालिश करने पर भी काफी अच्छे परिणाम आते हैं.
  • सुरजना नाम की फली होती हैं, ऐसा माना जाता हैं की इसको रोजाना समय से खाते रहने से कमर के दर्द में बहुत लाभ होता हैं. आप भी इसका उपयोग करके देख सकते हैं.
  • छुहारे खाने से भी बैक पैन में बहुत लाभ होता हैं. इसका सेवन करते रहना चाहिए.
  • मेथी कमर के लिए बहुत फायदेमंद होती हैं, इसका सेवन आप किसी भी रूप में कर सकते है जैसे मेथी की सब्जी, मेथी के लड्डू आदि.
  • कच्चे आलू की पुल्टिस अपनी कमर पर बांध कर (करीबन आधा घंटा) रखने से कमर दर्द दूर होता हैं. इसका प्रयोग रोजाना करने पर ही लाभ होता हैं.
  • तिल का तेल लें, इसे कम आंच में गर्म कर के रोगी की कमर पर मालिश करे, जल्द लाभ की अनुभूति होगी.
आखिरी शब्द Upper & lower back pain

उम्मीद हैं दोस्तों आपको यह आयुर्वेदिक घरेलु नुस्खे फॉर बैक पैन कमर दर्द जो की हड्डियों के सभी रोगों में बहुत असरकारी होते हैं, इनके बारे में जानकर अच्छा लगा हो. हर एक नुस्खे से अपने पीठ दर्द को ठीक कीजिये.

उम्मीग करते आपको यह पोस्ट पीठ दर्द का घरेलू इलाज बताइये, peeth dard ka ilaj batao kya hai को पढ़कर अच्छा लगा होगा. आप इनमे से सभी आयुर्वेदिक देसी नुस्खे का आप उपयोग करे सकते है. लेकिन याद रखे एक समय पर एक ही नुस्खे का उपयोग करे. एक ही समय पर 2-3 नुस्खों से हानि हो सकती हैं.

इस बिच अगर आपको किसी भी बैक पैन के नुस्खे से कोई side effects होता नजर आये तो तुरंत ही उस नुस्खे का उपयोग करना छोड़ दें. और हमे Comment के जरिये इन नुस्खों के असर के बारे में जरूर बताये.

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.